Home » बंगाली एक्ट्रेस सायोनी घोष ने शिवलिंग को कॉन्डम पहना दिया है, जिसके बाद हो गया बड़ा विवाद, जाने पूरा विवाद

बंगाली एक्ट्रेस सायोनी घोष ने शिवलिंग को कॉन्डम पहना दिया है, जिसके बाद हो गया बड़ा विवाद, जाने पूरा विवाद

by Deepak Dobhal

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मेघालय के पूर्व राज्यपाल तथागत रॉय (Tathagata Roy) ने ट्विटर पर एक मीम साझा करने पर बंगाली एक्ट्रेस सायोनी घोष (Saayoni Ghosh) के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

 

 

उन्होंने आरोप लगाया है कि इस मीम से हिंदुओं की भावनाएं आहत हुई हैं. तथागत ने अपनी शिकायत में लिखा है कि, ‘मैं भगवान शिव का परम भक्त हूं. 1996 में मैंने पैदल कैलाश मानसरोवर की यात्रा की थी. एक्ट्रेस सायोनी घोष के ट्विटर पोस्ट की इमेज से मेरी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं. पुलिस को इस मामले की जांच कर उपयुक्त कदम उठाना चाहिए.’

 

सायोनी घोष ने दावा किया है कि यह मीम फरवरी 2015 का है और यह उन्होंने शेयर नहीं किया है बल्कि यह किसी और की शरारत है जिसने तब उनका अकाउंट हैक किया था. रॉय ने कहा, ‘आप ने भारतीय दंड संहिता की धारा 295ए के तहत अपराध किया है, अब परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें.’

 

 

घोष ने ट्विटर पर बताया कि, ‘यह पोस्ट फरवरी 2015 का है जो मेरे संज्ञान में लाया गया है जो बेहद अप्रिय है.’ उन्होंने कहा कि वह 2010 में ट्विटर पर आई थी और कुछ समय बाद उन्होंने ट्विटर का इस्तेमाल करना बंद कर दिया था और बाद में उन्हें पता चला कि उनका अकांउट हैक हो गया है. उन्होंने कहा कि वह 2017 के बाद ही अपना अकाउंट वापस पा सकीं. एक्ट्रेस ने कहा, ‘अधिकतर पोस्ट को डिलीट कर दिया था लेकिन कुछ गैर जरूरी पोस्ट हमसे छूट गए.

 

BJP सांसद सौमित्र खान पूर्व बर्दवान ज़िले के खंडघोष इलाके में लोगों को संबोधित कर रहे थे. ज़ाहिर तौर पर चुनाव आ रहे हैं, तो ऐसी जनसभाएं हो ही रही हैं. इस सभा में उन्होंने कहा-

“फिल्म एक्ट्रेस सायोनी घोष जैसे कुछ आर्टिस्ट शिवलिंग और मां सरस्वती को लेकर अभद्र टिप्पणी करते हैं. विवादित बातें करते हैं. मैं ऐसा मानता हूं कि माता सरस्वती और शिवलिंग का अपमान करने वाले लोग ही असल में यौन कर्मी हैं.”

ये बात सौमित्र ने बांग्ला में कही थी, हमने आपको उसका हिंदी अनुवाद बताया. BJP सांसद ने ऐसा क्यों कहा, ये जानने के लिए पहले ये पूरा मुद्दा शुरू से जानते हैं. कुछ दिन पहले त्रिपुरा के पूर्व गवर्नर और बीजेपी नेता तथागत रॉय ने सायोनी के खिलाफ पुलिस ने में शिकायत दर्ज करवाई. कहा कि एक्ट्रेस ने अपने एक पोस्ट से हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत किया है. तथागत ने एक ट्वीट भी किया. कहा-

“मिस सायोनी घोष, आपने शिवलिंग को कॉन्डम पहना दिया है, उन्हें जिन्हें मैं और हम हिंदू पूजते हैं. पवित्र मानते हैं. इसलिए आपने IPC के सेक्शन 295-ए के तहत अपराध किया है. इस धारा के तहत उस व्यक्ति को आरोपी बनाया जाता है, जो किसी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए जानबूझकर निंदनीय कृत्य करता है. ये गैर-ज़मानती अपराध है और इसमें तीन साल की सज़ा होती है और फाइन भी लगता है. अब आप नतीजे के लिए तैयार रहिए.”

 

 

फिर कोलकाता के रबिंद्र सरोबर पुलिस स्टेशन में तथागत ने शिकायत दर्ज कराई. 16 जनवरी को. बस तभी से सायोनी घोष का ये मुद्दा खबरों में बना हुआ है. ‘इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, सायोनी के जिस ट्वीट को लेकर विवाद हो रहा है, वो साल 2015 का है. इस समय सायोनी के ट्विटर अकाउंट से एक तस्वीर पोस्ट की गई थी, जिसमें AIDS की जागरुकता के लिए बनाए गए एक विज्ञापन में शिवलिंग का इस्तेमाल किया गया था. खैर, मामला बढ़ा, तो सवाल सायोनी पर उठा. उन्होंने फिर एक ट्वीट कर अपनी सफाई दी. कहा-

 

“मैंने पहले भी मेंशन किया था कि 2015 का ये ट्वीट मेरी जानकारी के बिना अपलोड किया गया था. और जिस पल मुझे इस ट्वीट की जानकारी मिली, मैंने इसकी आलोचना की और जनता को जानकारी देकर तुरंत डिलीट कर दिया. अपने ही धर्म की भावनाओं को आहत करने का मेरा कभी कोई मकसद नहीं था. मैं हमेशा से ही अपने रुख को लेकर मुखर रही हूं और कभी भी एक इंच भी इधर-उधर नहीं हुई हूं. हालांकि जो हैरेसमेंट और कठिन परीक्षा का आज मुझे सामना करना पड़ा, वो बहुत दुखदायी था. मुजे सर्वशक्तिमान ईश्वर में पूरा भरोसा है.”

 

सायोनी ने इस ट्वीट के कुछ देर पहले दो-तीन ट्वीट और किए थे. उसी दिन यानी 16 जनवरी के दिन. बताया था कि 2015 में उनका अकाउंट हैक हो गया था और 2017 में वो उसे वापस पा सकी थीं. ये भी कहा कि उनका धर्म उनके लिए बहुत मायने रखता है. खैर, 16 जनवरी वाले सायोनी के इन ट्वीट्स से हमें पता चला कि शिवलिंग वाले ट्वीट पर जब बवाल हुआ, तब उन्होंने लोगों से उस ट्वीट की लिंक मांगी और उसे डिलीट करने का आश्वासन दिया, फिर डिलीट किया.

 

यहां सवाल ये उठता है कि 2017 में जब सायोनी का अकाउंट उन्हें वापस मिल गया था, तब क्या उन्होंने तथाकथित हैकिंग के दौरान हुए ट्वीट्स पर कोई नज़र नहीं मारी थी? अगर नज़र नहीं पड़ी थी, तो ये बड़ा सवाल है कि कैसे? और अगर नज़र पड़ी थी, तो इसे उसी वक्त डिलीट क्यों नहीं किया गया? इस सवाल का जवाब और सौमित्र खान के बयान पर प्रतिक्रिया लेने के लिए हमने सायोनी को कई बार कॉन्टैक्ट किया, लेकिन उनका हर बार यही जवाब मिला कि वो बिज़ी हैं.

You may also like