ये क्या कह गए असरानी #MeToo कैंपेन को बताया बकवास, बोले – ‘इंडस्ट्री को हो रहा है नुकसान’

इन दिनों इंडिया में #MeToo कैंपेन की वजह से तहलका मचा हुआ है. आए दिन इस कैंपेन के तहत हिंदी सिनेमाजगत की मशहूर हस्तियों के नाम सामने आ रहे हैं. कुछ नाम तो ऐसे हैं जिन पर यकीन करना मुश्किल हो रहा है. इन नामों के खुलासे के बाद कुछ लोगों ने #MeToo कैंपेन पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं.

 

बेहतरीन कॉमिक टाइमिंग और एक्टिंग का लोहा मनवा चुके असरानी से जब इस कैंपेन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने हैरान करने वाला बयान दिया। असरानी ने इस कैंपेन को बकवास बताते हुए कहा – ‘यह मनोरंजन इंडस्ट्री को नुकसान पहुंचा रहा है।’ असरानी ने यह बात इंटरव्यू के दौरान कही.

भारत में मी टू कैंपेन ने उस वक्त से जोर पकड़ा जब तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाया। तनुश्री ने नाना के अलावा विवेक अग्निहोत्री और गणेश आचार्य पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. तनुश्री ने इस मामले पर मुंबई के ओशीवारा स्टेशन में अपना बयान भी दर्ज करवा दिया है.

इन 3 हस्तियों के अलावा बॉलीवुड के संस्कारी बाबू आलोक नाथ की छवि भी धूमिल होने लगी है. आलोक नाथ पर उनके साथ ‘तारा’ सीरियल में काम कर चुकीं प्रोड्यूसर विनता नंदा ने रेप का आरोप लगाया है. इसके साथ ही संध्या मृदुल और ‘हम साथ साथ हैं’ की क्रू मेंबर ने भी यौन शोषण का आरोप लगाया है. इन आरोपों पर आलोक नाथ और नाना दोनों को नोटिस भेज दिया गया है. नाना पाटेकर को सिंटा ने नोटिस भेजा है तो वहीं आलोक नाथ को FWICE ने भेजा दोनों से 10 दिन के अंदर जवाब मांगा गया है.