‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर देख गुस्से में है कांग्रेस, बैन की कर रही है मांग

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के ट्रेलर रिलीज के बाद एक बार फिर से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह…

Deepak Dobhal December 28, 2018

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के ट्रेलर रिलीज के बाद एक बार फिर से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह की काफी चर्चा हो रही है। इस फिल्म में अभिनेता अनुपम खेर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के किरदार में हैं। वहीं फिल्म में अक्षय खन्ना उनके मीडिया सलाहकार संजय बारू की भूमिका में हैं.यह फिल्म संजय बारू की किताब द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर ही आधारित है.

गुरुवार को फिल्म की स्टार कास्ट और मेकर्स ने ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर रिलीज किया. रिलीज होते ही फिल्म को लेकर विरोध देखने को मिला है. मनमोहन सिंह की राजनीतिक पार्टी यानी कांग्रेस ने फिल्म को लेकर अपना विरोध दर्ज किया है. खबरों की मानें तो ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के ट्रेलर को देखने के बाद यूथ कांग्रेस महाराष्ट्र ने फिल्म को लेकर विरोध जताया है.

इस सिलसिले में विरोध जताते हुए यूथ कांग्रेस महाराष्ट्र ने ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के मेकर्स को एक पत्र भी लिखा है। इस पत्र में उन्होंने के मेकर्स से मांग की है कि फिल्म को रिलीज से पहले उन्हें दिखाया जाए और तथ्यों को गलत तरीके से दिखाई गईं चीजों को हटाया जाए। बता दें कि यूथ कांग्रेस महाराष्ट्र का आरोप है कि मेकर्स ने फिल्म में तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया है.

पता हो कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का कार्यकाल काफी विवादित और भ्रष्टाचारों से भरा रहा है। साथ ही मनमोहन सिंह को एक घटनाक्रम के द्वारा प्रधानमंत्री की कुर्सी पर भेजा गया। उन्हें बहुत बार विपक्षी पार्टियों ने रिमोट कंट्रोल वाला प्रधानमंंत्री भी बताया था। मनमोहन सिंह का कार्यकाल साल 2004 से लेकर 2014 तक रहा था। उन्होंने बतौर प्रधानमंत्री यूपीए 1 और 2 का नेतृत्व किया था.