पुलवामा अटैक पर एक महीने बाद क्यों आया सलमान खान का बयान, ये है वजह

350

सलमान खान इन दिनों अपनी दो फिल्मों को लेकर चर्चा में हैं। पहला तो यह है कि इस साल ईद पर उनकी फिल्म भारत रिलीज होने जा रही है। दूसरा उनके प्रोडक्शन हाउस में बनी फिल्म नोटबुक 29 मार्च को रिलीज होगी। फिल्म नोटबुक शिक्षा और कश्मीर जैसे अहम मुद्दे पर प्रकाश डालेगी। बीते दिनों सलमान खान ने इंटरव्यू में फिल्म नोटबुक के बारे में बात की। ऐसे में जब कश्मीर की बात आई तो पुलवामा अटैक पर भी वह पहली बार खुलकर बोलते नजर आए।

इससे पहले आपको बता दें कि पुलवामा अटैक को एक महीने से भी ज्यादा का समय हो गया है। सलमान ने इस हमले पर अपनी राय रखते हुए कहा ‘फिल्म नोटबुक की कहानी कश्मीर के बैकड्रॉप पर बेस्ड है, इसमें दिखाया जाएगा कि कैसे कश्मीर के नौजवानों के हाथों में उन्हें उकसाकर बंदूकें पकड़ा दी जाती हैं, अंत में वह इसे छोड़ते भी दिखेंगे, बच्चों के लिए शैक्षिक होना बहुत ही जरूरी है, लेकिन शिक्षा का आधार बेहद सटीक होना भी आवश्यक है, पुलवामा अटैक के हमलावर ने भी ट्रेनिंग ली थी, लेकिन उसकी शिक्षा गलत थी, ऐसे में पीड़ितों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं।’

वहीं, बात करे फिल्म नोटबुक की तो बता दें कि इसका निर्देशन नितिन कक्कड़ ने किया है। इस फिल्म से सलमान दो नए चेहरे प्रनूतन बहल और जहीर इकबाल को बॉलीवुड में लांच करने जा रहे हैं। प्रनूतन अभिनेता मोहनिश बहल की बेटी हैं। गौरतलब है कि होली वाले दिन (21 मार्च) सलमान खान ने ट्वीट किया था कि वह आगामी लोक सभा चुनाव का हिस्सा नहीं बनेंगे।