फरहान अख्तर के घर पहुंची ‘मिर्जापुर पुलिस’, मिर्जापुर प्रोडूसर बातचीत के लिए नहीं हुए तैयार, वापस लौटाया

‘मिर्जापुर’ वेब सीरीज पर दर्ज मामले की जांच करने पिछले दिनों बुधवार को मिर्जापुर पुलिस मुंबई पहुंची है। इस मामले में पूछताछ के लिए यूपी पुलिस गुरुवार को शो के एग्जेक्यूटिव प्रड्यूसर फरहान अख्तर के घर पहुंची। बताया जा रहा है कि उनसे किसी तरह की बातचीत किए बिना उन्हें ऐक्टर के घर से वापस लौटा दिया गया है।

 

ऑफिशल नियमों के मुताबिक, किसी भी केस की जांच के लिए किसी दूसरे राज्य से मुंबई आई पुलिस को वहां के नोडल ऑफिसर (Crime Branch DCP) की इजाजत लेनी पड़ती है। हालांकि, खबर है कि मिर्जापुर पुलिस जब से मुंबई पहुंची है डीसीपी अकबर पठान के दफ्तर के चक्कर काट रही है, लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो पा रही, जिस वजह से उन्हें इसे केस को लेकर आगे की इजाजत नहीं मिल पाई है।

 

 

बताया गया है कि गुरुवार को भी मुंबई पुलिस अंधेरी में क्राइम ब्रांच, डीसीपी के दफ्तर पहुंची थी, लेकिन वहां उनसे उनकी मुलाकात फिर नहीं हुई। इसके बाद टीम पूछताछ के लिए खार स्थित फरहान अख्तर के घर पर पहुंच गई। इसके बाद तुरंत मुंबई पुलिस को इसकी सूचना दी गई और लोकर पुलिस, खार से कुछ लोग फरहान के घर पहुंचे। पूछताछ के लिए नियमों का पालन न करने की वजह की वजह से फरहान ने उन पुलिसकर्मियों से किसी तरह की बातचीत से इनकार कर दिया।

बता दें कि यूपी के मिर्जापुर में वेब सीरीज मिर्जापुर में दिखाए गए कंटेंट से जनपद की देश दुनिया मे हो रही बदनामी से आहत होकर अरविंद चतुर्वेदी ने सीरीज के निर्माता और निर्देशक के साथ ऐमजॉन प्राइम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। उनका आरोप था कि वेब सीरीज मिर्जापुर से जनपद की धार्मिक, सामाजिक व क्षेत्रीय भावनाओं को ठेस पहुंचा। इससे उनकी धार्मिक भावनाएं व मान्यताएं काफी आहत हुई हैं। यही नहीं, मिर्जापुर को गलत तरीके से पेश करने का काम भी किया गया है।