Hindi

किसान आंदोलन में हुई हिंसा तो कंगना बोलीं- मेरा सिर शर्म से झुक गया.

गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान लाल किला और दिल्ली के कई हिस्सों में हिंसा हुई. इससे जुड़ी तस्वीरें और वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुए थे. वहीं, कुछ तस्वीरें कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने भी ट्विटर हैंडल से रिट्वीट की हैं, जिसमें प्रदर्शनकारी पुलिस पर हमला करते हुए नजर आ रहे हैं. इन्हें साझा करते हुए कंगना रनौत ने लिखा कि मैंने इन चीजों को नजरअंदाज करने की काफी कोशिश की, लेकिन मैं इसमें नाकाम रही. इसक साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि मेरा सिर शर्म से झुक गया. कंगना रनौत का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, साथ ही लोग इसपर जमकर कमेंट भी कर रहे हैं.

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1354301681043992577

 

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने अपने ट्वीट में इन तस्वीरों को रिट्वीट करते हुए लिखा, “मैंने इसे नजरअंदाज करने की पूरी-पूरी कोशिश की, लेकिन मैं इसमें नाकाम रही. मैं इस कड़ी का बहुत छोटा हिस्सा हूं, लेकिन इसमें मेरी असफलता बहुत बड़ी है. कम से कम इसे देखकर ऐसा लगता है कि मेरा सिर शर्म से झुक गया. मैं अपने राष्ट्र की अखंडता की रक्षा नहीं कर पाई. मैं कुछ नहीं हूं, लेकिन फिर भी मैं सबकुछ हूं…और आज मैं असफल हूं.” बता दें कि इससे पहले भी कंगना रनौत ने किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा से भी सवाल किया था.

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1354001019722731520

 

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने अपने एक ट्वीट में किसानों को आतंकवादी बताए जाने पर कैंसिल हुए ब्रांड कॉन्ट्रेक्ट की भी बात की. उन्होंने लिखा, “मेरे साथ 6 ब्रांड ने कॉन्ट्रेक्ट कैंसिल कर दिए. कुछ को मैंने पहले से ही साइन कर रखा था, लेकिन कुछ ने वह बंद कर दिया. मुझे कहा गया कि मैंने किसानों को आतंकवादी कहा था इसलिए वह अब मुझे अपना ब्रांड अम्बेसडर नहीं रख सकते.” कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने आगे कहा, “आज मैं यह कहना चाहूंगी कि जो भी भारतीय इन दंगों का सपोर्ट कर रहे हैं, वह भी आतंकवादी हैं, एंटी-नेशनल ब्रांड समेत.”

Related Articles

Back to top button