यूथ कांग्रेस का विरोध, देश के 2 बड़े शहरों में में रुकी दि एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर की स्क्रीनिंग

कोलकाता और लुधि‍याना में शुक्रवार को रिलीज हुई अनुपम खेर की विवादित फिल्म ‘दि एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का शो सिनेमाघरों में रद्द कर दिया गया. युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फिल्म के विरोध में प्रदर्शन किया था. इसके बाद सुरक्षा कारणों से शो रद्द करना पड़ा. विजय रत्नाकर गुट्टे द्वारा निर्देशित फिल्म ‘दि एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ पूर्व डॉ. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू की पुस्तक पर आधारित है.

https://www.instagram.com/p/BsX9yYThAKV/

आईएएनएस के मुताबिक मध्य कोलकाता के चांदनी चौक इलाके के हिंद सिनेमा में कुछ दर्शकों ने बताया कि शो को पहले दिन स्क्रीनिंग के 10 मिनट बाद ही रद्द कर दिया गया. कोलकाता पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “सुरक्षा कारणों के चलते ‘दि एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ की दोपहर की स्क्रीनिंग रद्द कर दी गई, क्योंकि हॉल के बाहर एक समूह द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा था.” उन्होंने यह नहीं बताया कि फिल्म का अगला शो दिखाया जाएगा या नहीं.

https://www.instagram.com/p/BsXImwphBs3/

 

दूसरी ओर पंजाब के लुधियाना में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन के बाद शुक्रवार को एक मल्टीप्लेक्स में ‘दि एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ की स्क्रीनिंग रोक दी गई. कार्यकर्ताओं ने पवेलियन मॉल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया, जिसके बाद मल्टीप्लेक्स प्रबंधन ने अप्रिय घटनाओं से बचने के लिए शो चालू नहीं किया.

जिस समय कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ, उस समय वहां स्थानीय पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौजूद थे. हालांकि, यह फिल्म यहां से 130 किलोमीटर दूर चंडीगढ़ के मल्टीप्लेक्सों में दिखाई गई.

बंगाल यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष शादाब खान ने आईएएनएस को बताया, “फिल्म का शीर्षक ही अपमानजनक है. मनमोहन सिंह को एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर बताकर फिल्म निर्माता क्या कहना चाहते हैं? कोलकाता में युवा कांग्रेस के 100 के करीब कार्यकर्ताओं ने सिनेमाघर के सामने विरोध प्रदर्शन किया. अच्छी बात है कि स्क्रीनिंग रोक दी गई है.”

 

यह पूछे जाने पर कि क्या फिल्म की स्क्रीनिंग को जबरन रद्द कराना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का उल्लंघन हो सकता है, उन्होंने कहा कि फिल्म ने पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं को आहत किया है.