#Metoo तनुश्री दत्ता के आरोपों से मुकर गए गवाह, नाना पाटेकर के खिलाफ नहीं मिला एक भी सबूत

तनुश्री दत्ता ने बॉलीवुड में मीटू मूवमेंट की शुरुआत की थी । उन्होंने बताया था कि नाना पाटेकर और गणेश आचार्य ने फिल्म के सेट पर उनका शोषण किया था । इसके बाद वो सेट छोड़कर चली गई थीं । 7 महीने पहले तनुश्री ने आरोपियों के खिलाफ ओशिवारा पुलिस स्टेशन में एफआईआर भी दर्ज करवाई थी । अब पुलिस मामले को आगे नहीं बढ़ा पा रही है.


यह घटना साल 2008 की है जब तनुश्री, नाना पाटेकर के साथ फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के सेट पर एक डांस नंबर शूट कर रही थीं । पुलिस के अनुसार, उन्होंने तकरीबन 12 से 15 गवाहों के बयान दर्ज किए हैं, इसमें सलमान खान के साथ मूवी जय हो में काम कर चुकी एक्ट्रेस डेजी शाह भी शामिल हैं।

डेजी उस समय गणेश आचार्य की असिस्टेंट थीं । पुलिस की मानें तो गवाहों में ज्यादातर बैकग्राउंड डांसर और सेट पर उस समय मौजूद रहे कर्मचारी हैं। इनमें से किसी का भी स्टेटमेंट तनुश्री के आरोपों का समर्थन नहीं करता। डेजी शाह ने नवंबर में अपना बयान दर्ज कराया था ।


डेजी शाह का कहना है कि वो ऐसी किसी घटना को याद नहीं कर पा रही हैं। कई सारे गवाहों के बयान रिकॉर्ड करने के बावजूद पुलिस को ऐसा नहीं लग रहा कि कोई भी तनुश्री के आरोपों का समर्थन कर रहा है । सभी का यही कहना है कि शूटिंग में देर हुई थी लेकिन यौन शोषण की बात याद नहीं ।

ta
वहीं तनुश्री का कहना है कि पुलिस को यह पता लगाना चाहिए कि गवाह कौन हैं और वे किसकी ओर हैं। उन्होंने ये भी कहा कि गवाहों को नाना पाटेकर की ओर से धमकियां मिल रही हैं ।