Home » कंगना रनौत का ‘तांडव’ के डायरेक्टर अली अब्बास जफर पर फूटा गुस्सा, पूछा- अल्लाह का मजाक उड़ाने की है हिम्मत ?

कंगना रनौत का ‘तांडव’ के डायरेक्टर अली अब्बास जफर पर फूटा गुस्सा, पूछा- अल्लाह का मजाक उड़ाने की है हिम्मत ?

by Deepak Dobhal

अमेजन प्राइम पर आई वेब सीरीज ‘तांडव’ को लेकर देशभर में तांडव जारी है। ‘तांडव’ वेब सीरीज के एक दृश्य को लेकर शुरू हुए विवाद के मामले में इसके निर्माताओं पर न सिर्फ एफआईआर दर्ज हुई हैं, बल्कि चारों ओर से इन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। इस सीरीज में हिंदू देवताओं के चित्रण को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, जिसके बाद इसके मेकर्स ने कहा कि अगर गैर-इरादतन तरीके से इससे लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं तो वे बिना शर्त माफी मांगते हैं। हालांकि, इस मामले पर कंगना रनौत ने सीरीज के मेकर्स पर सीधा हमला बोला है और पूछा है कि क्या अल्लाह का मजाक बनाने की हिम्मत उनमें है?

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1351172718004154381

https://twitter.com/KanganaTeam/status/1351151972938899457

 

भाजपा नेता कपिल मिश्रा के ट्वीट को शेयर कर कंगना रनौत ने लिखा, ‘माफी मांगने के लिए बचेगा कहां? ये सीधा गला काट देते हैं, जिहादी देश फतवा निकाल देते हैं, लिब्रु मीडिया वर्चुअल लिंचिंग कर देती है, तुम्हें ना सिर्फ़ जान से मार दिया जाएगा बल्कि उस मौत को भी जस्टिफ़ाई किया जाएगा, बोलो अली अब्बास जफर है हिम्मत अल्लाह का मज़ाक़ उड़ाने की?

 

 

 

इससे पहले भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया था, अली अब्बास जफर जी, कभी अपने मजहब पर मूवी बनाकर माफी मांगिए। सारी अभिव्यक्ति की आज़ादी हमारे ही धर्म के साथ क्यों? कभी अपने एकमात्र ईष्ट का भद्दा मजाक उड़ाकर भी शर्मिंदा होइए, आपके अपराधों का हिसाब भारत का कानून करेगा, जहरीला कंटेट वापस लीजिये, तांडव को हटाना ही पड़ेगा।’

 

दरअसल, तांडव के निर्देशक अली अब्बास जफर ने ‘हमारी ओर से गंभीरता के साथ माफी’ कैप्शन के साथ बयान ट्वीट किया और इसे ‘तांडव’ के कास्ट एवं क्रू की ओर से आधिकारिक बयान बताया गया। इसमें कहा गया कि ‘तांडव’ की टीम सीरीज पर दर्शकों की प्रतिक्रियाओं पर करीब से नजर रख रही है। बयान में कहा गया, ‘आज एक चर्चा के दौरान सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने हमें बताया कि उन्हें वेब सीरीज के विभिन्न पहलुओं को लेकर बड़ी संख्या में शिकायतें और अर्जियां मिली हैं जो इसकी सामग्री द्वारा लोगों की भावनाओं को आहत करने संबंधी गंभीर चिंताओं और आशंकाओं के बारे में हैं।’

 

 

इसमें कहा गया, ‘इसके निर्माताओं और कलाकारों का किसी व्यक्ति, जाति, समुदाय, धर्म की भावनाओं या धार्मिक आस्थाओं को आहत करने या किसी संस्था, राजनीतिक दल अथवा व्यक्ति (जीवित या मृत) का अपमान करने का कोई इरादा नहीं था। तांडव की पूरी यूनिट लोगों द्वारा जताई गयी चिंताओं पर संज्ञान लेती है और यदि इससे गैर-इरादतन तरीके से किसी व्यक्ति की भावनाओं को चोट पहुंची है तो हम बिना शर्त माफी मांगते हैं।

You may also like