इस्तीफे पर अड़े राहुल गांधी, CWC बैठक में कहा- ‘नहीं रहना चाहता अध्यक्ष’

250

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक खत्म हो गई है. बैठक के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मैं अध्यक्ष के रूप में काम नहीं करना चाहता हूं, पार्टी के लिए काम करना चाहता हूं. इसके बाद राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा निकल गए हैं.

 

बैठक में कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों ने अपनी बात रखी. सदस्यों का राहुल से कहना है कि आप इस्तीफा मत दीजिए. आप काम कीजिए. सभी की बात सुनने के बाद अब राहुल ने बैठक को संबोधित किया.

आपको बता दें कि इससे पहले 23 मई को राहुल ने सोनिया गांधी से इस्तीफा देने की बात कही थी. इस पर उन्होंने (सोनिया) राहुल से कांग्रेस वर्किंग कमेटी में अपनी बात रखने को कहा था. आज भी राहुल इस्तीफा देना चाहते थे, लेकिन बैठक से पहले प्रियंका गांधी और मनमोहन सिंह ने राहुल को समझाया. मनमोहन सिंह ने कहा था कि हार जीत लगी रहती है, इस्तीफे की जरूरत नहीं है.

मोदी की सुनामी में कांग्रेस की जो गत हुई, उससे हर कोई हैरान है. हार पर मंथन करने के लिए कांग्रेस के दिग्गज इकट्ठा हुए. इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पहुंचें.

2014 के मुकाबले इस चुनाव में कांग्रेस की सिर्फ 8 सीटें बढ़ीं हैं. पिछले चुनाव में कांग्रेस ने 44 सीट जीती थीं. जबकि इस बार पार्टी को महज 52 सीट मिली हैं, जिससे उसे लोकसभा में विपक्ष का भी दर्जा नहीं मिलेगा. इसके लिए भी 54 का आंकड़ा चाहिए. राहुल गांधी भले ही वायनाड से बंपर वोटों से जीत गए हों. लेकिन कांग्रेस के गढ़ अमेठी पर अब भगवा लहरा रहा है. स्मृति ईरानी ने राहुल को 55 हजार से ज्यादा वोटों से मात दी.