हॉकी लीजेंड संदीप सिंह ने अपने भयानक हादसे पर विजय हासिल कर दिलजीत दोसांझ के साथ 12 साल बाद किया ट्रैन में सफ़र !

हॉकी खिलाड़ी ने भले ही मेडिकल जंग जीत कर विजयी हासिल कर ली है लेकिन वह हादसा अभी भी संदीप के जहन में तरोताज़ा है इसिलए उस हादसे के बाद संदीप कभी भी ट्रेन से यात्रा नहीं कर पाए। चूंकि अब सूरमा अपनी रिलीज से महज कुछ दिनों की दूरी पर है ऐसे में संदीप सिंह ने आज फिल्म के प्रचार के लिए ट्रेन में यात्रा की है। यह छोटी यात्रा शायद संदीप को उस हादसे के अपने सबसे बड़े भय से उबरने में मदद कर सकती है।

किंवदंती हॉकी खिलाड़ी संदीप को 2 साल तक लकवा मार गया था और इस दर्दनाक हादसे के बाद उनका हॉकी कैरियर लगभग समाप्त हो गया था लेकिन यह उनका दृढ़ संकल्प और खेल के प्रति प्यार उन्हें वापस ले आया जिसके बाद उन्होंने हमारे देश के लिए कई पदक जीत कर हमारा सर गर्व से ऊपर कर दिया था।

वह अपने भाई बिक्रमजीत और अभिनेता दिलजीत दोसांझ के साथ यात्रा कर रहे हैं जो आने वाली फिल्म सूरमा में संदीप का किरदार निभा रहे हैं।

“सूरमा” में संदीप सिंह के संघर्ष और हॉकी किंवदंती बनने के उनके सफ़र को वास्तविकता देने के लिए, फ़िल्म को संदीप के होमटाउन शाहबाद में फ़िल्माया गया है। जाबाज़ खिलाड़ी संदीप ने कठिन परिस्थितियों के बावजूद भी हार नहीं मानी और मैदान पर अपनी कड़ी मेहनत जारी रखी। संदीप की कहानी इतनी प्रेरणादायक है कि उनके जीवन पर एक बॉलीवुड बॉयोपीक बनाई जा रही है जिसमे अभिनेता / गायक दिलजीत दोसंघ द्वारा संदीप के किरदार में नज़र आएंगे।

संदीप को दुनिया का सबसे खतरनाक ड्रैग-फ्लिकर में से एक माना जाता है, जिनकी ड्रैग की स्पीड 145 km/hr है और उनकी इस शानदार स्पीड के चलते उन्हें “फ्लिकर सिंह” के नाम से जाना जाता है।

जीत, हार, जीवन और मृत्यु से संघर्ष करने वाले ड्रैग फ्लिकर की कहानी “सूरमा” के रूप में जल्द ही बड़े पर्दे पर दर्शको से रूबरू होगी। शाद अली द्वारा निर्देशित फिल्म में दिलजीत दोसांझ और तापसी पन्नू मुख्य भूमिका में नज़र आएंगे।

“सूरमा” सोनी पिक्चर्स नेटवर्क प्रोडक्शंस, चित्रांगदा सिंह और दीपक सिंह द्वारा निर्मित है। संदीप सिंह के जीवन पर आधारित “सूरमा” 13 जुलाई, 2018 को नज़दीकी सिनेमाघरों में रिलीज होगी।