इन एक्ट्रेस ने अपने दम चलाई फिल्म !

0
22

 

लंबे समय तक हिंदी सिनेमा में हीरोइन होने का मतलब गैर-शादीशुदा होना रहा. अधेड़ नायक के हाथ में गिटार पकड़ा कर उसे कॉलेज गोइंग बना दिया जाता और हीरोइन बेडरूम में पिंक टेडी बियर रख कर ‘बबली’ बनी रहती, मगर   आज वो दौर नही रहा है जहाँ किसी फिल्म में सिर्फ सुपर स्टार हुआ करते थे और एक्ट्रेस सिर्फ छोटे रोल किया करती थी, पहले कभी कोई ये सोच भी नही सकता था कि  कोई फिल्म सिर्फ एक्टर्स के दम पर चल जाये मगर आज के दौर में ये सब बदल गया है, जहाँ  फिल्मो की कहानी  बदल गयी है वहीँ ऑडियंस भी फीमेल ओरिएंटेड वाली फिल्म देखना पसंद करती है |

आज विद्या बालन  तुम्हारी सुल्लू, कंगना रानोत क्वीन, आलिया भट्ट ‘डियर ज़िंदगी’ और ‘उड़ता पंजाब’ जैसी फिल्मों को मेन स्ट्रीम हीरोइन की तरह से निभा पा रही हैं |

विद्या बालन

16 साल की उम्र में ही एकता कपूर के टेलीविज़न शो “हम पाँच” से उन्होंने एक्टिंग में डेब्यू किया, जहाँ लोगो ने उनके हुनर को पहचाना. 2005 में फिल्म “परिणीता” के साथ उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया, जिसमे उनके साथ सैफ अली खान थे और इस फिल्म की प्रशंसा आलोचकों ने भी की। फिल्म में उनके अभिनय की देखते हुए उन्हें फिल्मफेयर के बेस्ट फिमेल डेब्यू अवार्ड से सम्मानित किया गया।

2009 से अब तक बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री की सबसे सफल एक्ट्रेस  में वह एक है  और इस दौरान उन्होंने बहुत सी सुपरहिट फिल्मो में भी काम किया अमिताभ बच्चन के साथ “पा” (2009), नसीरुद्दीन शाह के साथ “इश्किया” (2010) और “नो वन किल्ड जेसिका” (2011) जैसी सुपरहिट फिल्मो में उन्होंने दी

इसके बाद 2011 में “दी डर्टी पिक्चर” में उनके सिल्क नामक किरदार ने उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का नेशनल फिल्म अवार्ड और फिल्मफेयर अवार्ड भी दिलवाया ये  फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई इसके बाद “कहानी” (2012) फिल्म में उन्होंने एक गर्भवती महिला का रोल निभाया और इस फिल्म के लिए भी उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवार्ड मिला दोनों फिल्म ने 100 करोड़ तक का बिज़नेस किया |

 

और पिछले साल तुम्हारी सुलू ने भी बॉक्स ऑफिस पर अच्छा कारोबार किया इस फिल्म के लिए भी विद्या बालन को  बेस्ट एक्ट्रेस फिल्म फेयर का  अवार्ड दिया गया |

आलिया भट्ट

आलिया ने अपनी फिल्मी कॅरियर की शुरुआत 2012 में आई  करण जौहर की फिल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ से शुरू किया  जिसमे के साथ वरुण धवन और सिदार्थ मल्होत्रा भी थे |

हालाँकि  शुरु में लोगों ने आलिया को सिरियस नही लिया उनका खूब  मजाक उड़ाया जाता मगर इसके बाद उन्होंने इम्तियाज़ अली की फ़िल्म हाईवे, टू स्टेट्स (2014), हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया (2014), उड़ता पंजाब, डियर जिंदगी (2016) बद्री नाथ की दुल्हनिया (2017 ) और अभी हाल ही में राजी से सभी आलोचकों के मुहं बंद कर दिये |   आलिया की ज्यदातर फिल्मों ने 100 करोड़ से ऊपर का business  किया |

डिअर जिंदगी के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्म फेयर अवार्ड दिया गया |

 कंगना राणावत

कंगना राणावत ने 2006 में आयी थ्रिलर फिल्म गैंगस्टर से डेब्यू किया था। जिसके लिये उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट फीमेल डेब्यू अवार्ड भी मिला था। इसके बाद 2006 में ही आयी फिल्म वोह लम्हे में उन्होंने एक भावुक किरदार की भूमिका निभाई,  इसके बाद लाइफ इन….मेट्रो (2007) और फैशन (2008) जैसी सुपरहिट फिल्मे की इसके लिये उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का राष्ट्रिय अवार्ड और फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला है

इसके बाद कंगना ने कमर्शियल सफल फिल्म राज़ : दी मिस्ट्री कंटिन्यू (2009) और वन्स अपॉन ए टाइम इन मुंबई (2010) की। इसके बाद उन्होंने 2011 में बॉक्स ऑफिस हिट फिल्म तनु वेड्स मनु में आर. माधवन के साथ एक कॉमिक रोल निभाया. 2014 में आयी फिल्म क्वीन में उनके प्रदर्शन के लिये उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर और नेशनल फिल्म अवार्ड भी मिला,  इस फिल्म से  वो बॉलीवुड की  भी क्वीन बन गयी |

2015 में रनौत ने तनु वेड्स मनु रिटर्न्स में ड्यूल रोल निभाया,  क्वीन और तनु वेड्स मनु रिटर्न्स दोनों ने 100 करोड़ से ज्यादा का कारोबार किया.  इसके लिये उन्हें फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड और बेस्ट एक्ट्रेस का लगातार दूसरा फिल्मफेयर और नेशनल फिल्म अवार्ड भी मिला  कंगना  आज के दौर के एक  मात्र ऐसी एक्ट्रेस है जिनके पास तीन national award हैं |

रानी मुखर्जी

रानी मुखर्जी ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत ‘राजा की आएगी बारात’ से की पर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर नाकाम रही.रानी मुखर्जी की पहली बड़ी सफल फिल्म रही शाहरुख़ खान के साथ ‘कुछ कुछ होता है’.

2004 -2006 का दौर उनके लिय सुनहरा दौर रहा. फिल्म ‘ब्लैक’ से उन्होंने अपने अभिनय का एक शक्तिशाली परिमाण दिया जहां उन्हें एक अंधी -बहरी लड़की का किरदार करने को मिला.रानी मुखर्जी ही एक ऐसी एक्ट्रेस  है जिसे फिल्मफेयर ने 2004 से  2006 तक 3 साल लगातार बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड दिया गया |

रानी मुखर्जी को फिल्म इंडस्ट्री में 20 साल से ज्यादा हो गये हैं आज भी उनके फिल्मे आ रही है जिसमे कोई हीरो न होते हुए भी उनकी  फिल्म अच्छा कारोबार कर रही है जिसमे 2014  में आई  मर्दानी हो या फिर  अभी हाल ही में आई फिल्म हिचकी ने ये साबित कर दिया किया वो अपने दम  पर फिल्मे चला सकती है |

अब  दौर बदल गया है  आज हर एक्ट्रेस फीमेल ओरिएंटेड फिल्म करना चाहती है और सिर्फ फिल्मो में गुड़ियों की तरह इस्तेमाल नही  होना चाहती है इसलिए आजकल ऐसी फिल्मे आ रही है जिसमे किसी मेल सुपरस्टार की जरुरत नही है |